चीन का सिल्क रोड परियोजना- एक नजर

सिल्क रोड परियोजना चीन का एक महत्वाकांक्षी परियोजना है।

इसके अंतर्गत दुनिया की 65% जनसंख्या आयेगा जिनकी पूरी दुनिया के GDP मे 60% की भगीदारी है।

इसके अंतर्गत 6 आर्थिक गलियारों का निर्माण होना है जो 70 से ज्यादा देशों से होकर गुजरेंगी।

चीन इसमे $1 trillion का खर्च करेगा।

चीन पाकिस्तान आर्थिक गलियारे के कारण भारत इसका भागीदार नहीं है।

चीन पाकिस्तान आर्थिक गलियारे के निर्माण में $60 million का खर्च होना है लगभग इतना ही रुपया चीन हर साल भारत को अपने सामान को बेचकर कमा लेता है।

चीन अपने इस परियोजना में छोटे देशों को उधार देता था और कार्य मे लगने वाला सारा सामान चीन का इस्तेमाल करता था साथ ही काम करने के लिए कर्मचारी भी चीन के होते थे। इस कारण परियोजना में उपयोगी वस्तु व कर्मचारी उस छोटे देश का ना होने के कारण इन देशों को खुद को ठगा हुआ महसूस होने लगा। इसके कई देशों ने खुद को इस परियोजना से अलग करने लगे जो चीन के लिए अच्छा बिल्कुल नहीं है।

इसमे कोई दो रे नहीं कि इस तरह के परियोजना दुनिया के लिए लाभदायक है किंतु चीन को इसमे पारदर्शिता पर ध्यान देना चाहिए व छोटे देशों के हितों को ध्यान रखना चाहिए।

Leave a comment

Leave a Reply